मध्यप्रदेश के पूर्व कांग्रेस नेता और हाल ही में बीजेपी जोइन कर चुके ज्योतिरादित्य सिंधिया के बारे में हम आज बात करने वाले है। कांग्रेस से बीजेपी में शामिल होने के बाद से सिंधिया काफी समय तक सुर्खियों में चल रहे थे। राजनीति के अलावा ज्योतिरादित्य सिंधिया अपने रॉयल लाइफ स्टाइल के लिए भी काफी मशहूर है । अगर आपको जानकारी ना हो तो बता दे सिंधिया ग्वालियर के बेहद जाने माने सिंधिया राजघारने से तालुक रखते हैं। ज्योतिरादित्य सिंधिया राजघारने के एकलौते वारिस है इसलिए इनके पास दौलत- शोहरत की कोई कमी नही है|

अगर हम ज्योतिरादित्य सिंधिया के निवास की बात करे तो वह अपने खानदानी महल में रहते हैं। इस महल के मालिक भी ज्योतिरादित्य सिंधिया है। अगर इस सिंधिया राजमहल की बात करे तो यह राजमहल तकरीबन 12 लाख वर्गफीट से भी अधिक क्षेत्रफल में बना हुआ हैं और ऐसे में यह महल अंदर से ही नही बल्कि बाहर से भी बेहद भव्य और शानदार दिखता है । आज हम आपको इस महल से जुड़ी कुछ खासियत बताने जा रहे हैं।

इस आलीशान महल की निर्माण की बात करें तो सिंधिया परिवार के राजा महाराजाधिराज जयजीराव सिंधिया अलीजाह बहादुर ने इस भव्य महल को साल 1874 में बनावाया था| उस समय के हिसाब से इस महल के निर्माण में तकरीबन एक करोड़ की लागत आयी थी। आज के समय इस महल की कीमत 4000 करोड़ के समान होगी ।

आज जयविलास महल सिर्फ ज्योतिरादित्य सिंधिया का निवास का स्थल ही नहीं बल्कि आज यह महल एक भव्य संग्रहालय के रूप में भी जाना जाता है| लगभग 400 कमरों वाला महल का एक बड़ा सा हिस्सा इतिहास को संजोने के लिए इस्तेमाल किया जाता है और उसे एक संग्रहालय का रूप दे दिया गया है| अगर हम महल की बाहरी हिस्सा की बात करें तो वो ग्रीनरी से भरा हुआ है जो महल के लुक्स को उभरने में काफी मदद करता है।

महल के सबसे शानदार हिस्सों की बात करें तो उसमें सबसे पहले दरबार आता है जो लुक्स में काफी बेहतरीन है साथ ही कम्फर्ट भी है।

इस महल में बना हुआ डाइनिंग हॉल भी लुक्स के मामले में बेहद रॉयल फील देता है| इसके साथ साथ इनके डाइनिंग हॉल की खासियत की बात करें तो इस डाइनिंग हॉल के खाने की मेज पर ही एक चांदी की ट्रेन दौड़ती है जिसका इस्तमाल खाने को परोसने के लिए किया जाता है| वहीं अगर इस महल की छत्तो की बारे में बात करें तो नक्काशी करने के लिए सोने का इस्तमाल किया गया है|

जैसे कि हमने आगे बताया ज्योतिरादित्य सिंधिया के परिवार ने इस राजमहल के बड़े से हिस्से को एक संग्रहालय के रूप में ढाल रखा है ,आज इस संग्रहालय में देश विदेश के हज़ारो पर्यटक पहुँचते है| वहीं इस महल की दूसरे हिस्से की बात करें तो उसमें ज्योतिरादित्य सिंधिया अपनी पत्नी प्रियदर्शनी और बच्चों संग रहते है|

बात दे कि आज ज्योतिरादित्य सिंधिया का नाम केवल राजनीति के लिए ही नहीं बल्कि उनकी दौलत और शोहरत के लिए भी काफी चर्चा में रहता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *