गिलोय क्या है?

आयुर्वेद में हर एक पेड़ पौधे को औषधि माना गया हैं और हर एक पेड़ पौधे में काफी औषधि होती हैं जो आपके काफी सारी बिमारियों को दूर करता हैं.

ऐसा ही एक पेड़ पौधा गिलोय का हैं जिसके बिमारियों को खत्म करने के लिए काफी ज्यादा फ़ायदे हैं. गिलोय के पत्तों में इतनी ज्यादा औषधि होती हैं की उसे आयुर्वेद में अमृत माना जाता हैं. गिलोय के पत्तों का रस निकालकर आप रोज पिएंगे तो आपकी सारी बिमारियां खत्म हो जाएगी।

तो आज हम आपको गिलोय के पत्तों के रस का सेवन करने से क्या फायदें होंगे ये बताएंगे:-

  1. बुखार की समस्या लगभग हर व्यक्ति को रहती हैं और अगर आपको बार बार बुखार आता हैं तो गिलोय के पत्तों के रस का रोज सेवन करें जिससे आपको बुखार कभी नहीं आएगा. बुखार काफी लोगों को आता हैं और बार बार बुखार आनें की वजह रोगप्रतिरोधक क्षमता का कम होना होता हैं. गिलोय के पत्तों का रस का सेवन करें जिससे आपको बुखार की समस्या नहीं होगी।
  2. डायबिटीज़ की समस्या आज कल काफी ज्यादा बढ़ गयी हैं और काफी लोगों को डायबिटीज होता हैं. डायबिटीज़ में शुगर बढ़ती रहती हैं, लेकिन अगर आप रोज़ गिलोय के पत्तों का रस पिएंगे तो आपकी शुगर हमेशा अच्छी बनी रहेगी और आपको कोई परेशानी नहीं होगी. गिलोय के पत्तों का रस निकालकर उसको पानी के साथ सेवन करें और ये हर रोज़ सुबह उठकर आपको करना चाहिए जिससे आपकी शुगर अच्छी बनी रहेगी और आपको डायबिटीज़ की समस्या परेशान नहीं करेगी।
  3. आज के इस खराब हुए हवामान में अस्थमा की बिमारियां काफी ज्यादा होने लगी हैं. अस्थमा के मरीज को सांस लेने में काफी तकलीफ होती हैं, लेकिन गिलोय के पत्तों का रस वो रोज पीएं जिससे सांस लेने की तकलीफ़ कम होगी और आप काफी अच्छा महसूस करेंगे. इस वातावरण में आज कल लोगों को सांस लेने की समस्या सबसे ज्यादा होती हैं, लेकिन गिलोय के पत्तों का रस का सेवन करके आपको सांस लेने की तकलीफ़ कम होगी और आप अच्छा महसूस करेंगे. गिलोय के पत्तों का रस का सेवन दिन में 2 बार करें जिससे आपको काफी लाभ मिलेगा।
  4. लड़कियां हमेशा सुंदर दिखने के लिए हमेशा मेकअप कराती रहती हैं और काफी अलग अलग प्रयोग करती हैं. वैसे सुंदर बने रहने के लिए गिलोय के पत्तों का रस पीएं जिससे आपकी सुंदरता हमेशा बनी रहेगी. लडकियां हमेशा ब्यूटी पार्लर में जाती रहती हैं और अपनी खुबसूरती को बनाएं रखने के लिए मेकअप करती रहती हैं, लेकिन अगर आप गिलोय के पत्तों का रस का सेवन हर रोज करेंगे तो आपकी सुंदरता हमेशा अच्छी रहेगी और आपकी खुबसूरती बनी रहेगी।
  5. अगर आपको खुजली की परेशानी हैं तो खुजली को पुरी तरह खत्म करने के लिए गिलोय के रस को हल्दी के साथ मिक्स करें और उसको जहां पर खुजली होती हैं वहां पर लगाएं और इसके अलावा गिलोय के रस में शहद मिलाकर पीएं जिससे खुजली ख़त्म हो जाएगी. गिलोय के रस को निकालकर जहां पर आपको खुजली होती हैं वहां पर जरूर लगाएं जिससे आपकी खुजली काफी कम होगी और आपको राहत मिलेगी. गिलोय काफी औषधीय पौधा है जो काफी गुणों का काम करता हैं।
  6. कान में दर्द की समस्याएं काफी बढ़ गयी हैं तो आप गिलोय के रस को गर्म करके हल्का सा गुनगुना करें और उसको कान में डाल दें जिससे कान का दर्द बंद होगा. आज कल मोबाइल फोन का ज्यादा इस्तेमाल या फिर इयरफोन का बहुत ज्यादा इस्तेमाल कान में दर्द पैदा करता है. अगर आपको कान में दर्द हैं तो आप गिलोय के रस को निकालकर उसको अपने कान में डालें जिससे आपको काफी राहत मिलेगी. आप ऐसा दिन में 3 बार करें जिससे आपके कान का दर्द कम हो जाएगा और आपको राहत मिलेगी।
  7. एसिडिटी भी एक बड़ी समस्या हैं जो कुछ भी खाने से लोगों को होती हैं. एसिडिटी की वजह से लोग खाना तक छोड़ देते हैं. गिलोय के पत्तों का रस का सेवन करें आपकी एसिडिटी गायब हो जाएगी. एसिडिटी अगर आप कोई तली हुई चीज खाते हैं तो सबसे ज्यादा एसिडिटी आपको होने की संभावना रहती है. एसिडिटी जिसको भी होती है उसको खाना खानें में काफी परेशानी होती है. अगर आपको एसिडिटी से बचना है तो आप गिलोय के रस का सेवन जरूर करें जिससे आपकी एसिडिटी कम हो जाएगी और आपको काफी फायदा मिलेगा. गिलोय के पत्तों का रस जितना ज्यादा आप पीएंगे उतना ज्यादा फायदा आपको होगा।
  8. बवासीर भी एक बड़ा अजीब रोग हैं जिससे हर कोई मुक्त होना चाहता हैं. गिलोय के पत्तों का रस बनाएं और उसमें शहद डालकर पीने से बवासीर की समस्या कम हो जाएगी और आपको ये रोज दिन में 2 बार करना होगा. बवासीर में गैस की समस्या, पेट में खराबी, जैसे काफी अलग अलग बातों से परेशानी होती हैं जो इंसान को बेचैन कर देता हैं. बवासीर होने से काफी नुकसान इंसान को होता हैं, लेकिन बवासीर के इलाज़ के लिए गिलोय के पत्तों का रस का सेवन अगर आप करेंगे तो आपको काफी फायदा होगा और आपको बवासीर से राहत मिलेगी. तो आप रोज़ गिलोय के पत्तों का रस का सेवन जरूर करें।
  9. यूरीन इंफेक्शन से काफी बिमारियां उत्पन्न होती हैं, लेकिन यूरीन इंफेक्शन ना हो तो आप गिलोय का रस पीएं जिससे आपको यूरीन इंफेक्शन कभी नहीं होगा. यूरीन इंफेक्शन से काफी खतरनाक बिमारियां भी उत्पन्न होने का डर होता हैं, लेकिन यूरीन इंफेक्शन से बचने के लिए आप हर रोज़ गिलोय के पत्तों का रस का सेवन जरूर करें जिससे आपको यूरीन इंफेक्शन से राहत मिलेगी और आपको काफी फायदा भी होगा जिससे आप अच्छा महसूस करेंगे।
  10. कफ या खांसी जिसको भी होता हैं वो गिलोय के रस का सेवन करें जो आपकी खांसी भगा देता हैं और आपको मजबूत बना देता हैं. कफ या खांसी उसी को होती हैं जिसकी रोगप्रतिरोधक क्षमता काफी कम होती हैं. खांसी कम हो उसके लिए आपकी रोगप्रतिरोधक क्षमता ज्यादा होनी बेहद जरूरी हैं और साथ ही आपको इसके लिए गिलोय के पत्तों के रस का सेवन हर रोज़ करना पड़ेगा. गिलोय के पत्तों का रस काफी शानदार होता हैं जो रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने का काम करता हैं और इससे आपको खांसी नहीं होगी. तो आप हर रोज़ दिन में 2 बार गिलोय के पत्तों के रस का सेवन अवश्य करें।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *